HomeNews5G Network: भारत में खुलें 5G...

5G Network: भारत में खुलें 5G के दरवाजे, फास्ट दुनिया में जाने के लिए लोगो को हैं ‘अपडेट’ और ‘इनवाइट’ का इंतजार

5G Network: भारत में प्राइवेट सेक्टर की दो बड़ी कंपनियां Reliance Jio और Airtel ने भारत के कुछ बड़े शहरों में 5G सेवा को लॉन्च कर दिया है।

लेकिन अभी भी काफी लोगों के सामने अपडेट और इनवाइट जैसी बाधाएं खड़ी है।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

दरअसल, अधिकतर स्मार्टफोन ब्रांड के भारत में 5G स्मार्टफोन मौजूद हैं, लेकिन उन्हें या तो 5G चलाने के लिए Software Update या फिर Invite की जरूरत पड़ रही है।

बड़े ब्रांड्स जैसे Apple से लेकर Samsung और Oneplus तक अपने फोन में 5G सपोर्ट देने के लिए टेस्टिंग कर रहे हैं और जल्द ही सभी टेस्टिंग को पूरा करने के बाद Software Update को रिलीज किया जाएगा।

भारत में बिक्री के लिए आए इतने स्मार्टफोन:

काउंटरप्वाइंट रिसर्च के मुताबिक, जुलाई और सितंबर के दौरान भारत में 3.7 करोड़ स्मार्टफोन की शिपिंग की गई हैं।

इसमें 1.07 करोड़ स्मार्टफोन 5G Ready है, जिसमे Samsung का शेयर 27 प्रतिशत का रहा है और उसके बाद Vivo और Oneplus का स्थान रहा है।

5G रेडी स्मार्टफोन को 5G इनेबल होने के लिए एक स्पेशल सॉफ्टवेयर की जरूरत होगी जिसकी मदद से स्मार्टफोन, Service Provider की 5G सर्विस का फायदा उठा सकेंगे।

5G सर्विस सपोर्ट एयरटेल ऐप पर करें चेक:

दरअसल, एयरटेल ने अपनी 5G सर्विस को लॉन्च कर दिया है, जो अभी सीमित शहरों तक ही है।

इसके साथ ही एयरटेल ने 5G सर्विस को सपोर्ट करने वाले स्मार्टफोन की लिस्ट भी शेयर की है जिससे यूजर्स अपने फोन के सपोर्ट को भी चेक कर सकता है।

इसके लिए यूजर्स को Airtel App पर जाना होगा. दरअसल, एयरटेल ने अपने ऐप पर Brand Wise 5G को सपोर्ट करने वाले डिवाइस की लिस्ट शेयर की है, जिसमें यूजर्स अपने फोन के स्टेटस को चेक कर सकते हैं।

अगर देखा जाए तो 5G Eco System में सभी स्मार्टफोन एक समान नहीं है। प्रीमियम स्मार्टफोन जैसे Apple, Samsung और OnePlus की प्रीमियम सीरीज जल्दी 5G सपोर्ट करेंगी।

भारतीय टेलीकॉम Lower और Mid Band Frequencies को तैयार कर रही है, जिसे 6GHz के नाम से जाना जाएगा और इसमें ज्यादा जगह को कवर करने की क्षमता होगी।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.