HomeCareerBig Breaking News : नौकरियां हुई...

Big Breaking News : नौकरियां हुई मंदी का शिकार ! Amazon, Apple, Google, Tesla जैसी दिग्गज कंपनियां कम कर दी नौकरियां, हो जाये सचेत

Big Breaking : कोरोना महामारी के बाद दशकों की सबसे ज्यादा महंगाई के कारण दुनिया को अब मंदी का डर सताने लगा है। इसके कारण शेयर बाजारों की हालत बहुत ही खराब हो गयी है।

खासकर Tech Companies के लिए पिछले 5 से 6 महीने काफी बुरे साबित हुए हैं। बता दे कि कई Analyst यह कह चुके हैं की मंदी (Economic Recession) अब बस चंद महीनों की दूरी पर ही है, वहीं कुछ का तो ये भी मानना है कि मंदी पहले ही आ चुकी थी और अब बस इसका औपचारिक होना बाकी रह गया है।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

इस बीच Google Amazon Apple Facebook Microsoft Netflix और telsa समेत टेक जगत की तमाम दिग्गज कंपनियां मंदी से निपटने की पूरी तरह से तैयारी कर रही हैं।

इन कंपनियों ने या तो कर्मचारियों की छंटनी की है, या तो भर्तियां कम कर रही हैं। चलिए जानते हैं कि मंदी के डर से कंपनियां क्या- क्या कदम उठा रही हैं…

Alphabet / Google

गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट ने भर्ती की प्रक्रिया को काफी धीमी कर दी है। बता दे कंपनी के CIO सुंदर पिचाई ने एक Internet Memo में कर्मचारियों को बताया है.

कि दूसरी तिमाही में गूगल ने भले ही 10 हजार लोगों को भर्ती किया है, लेकिन साल के बचे हिस्से में इसे बहुत ही धीमा किया जाने वाला है।

उन्होंने साफ-साफ कहा कि अन्य कंपनियों की तरह गूगल के ऊपर भी मंदी का असर जरूर होगा। अभी गूगल में 1,64,000 Employee काम कर रहे हैं।

Amazon

अमेजन दुनिया में सबसे अधिक रोजगार देने वाली कंपनियों में से एक मानी जाती है। मार्च 2022 तक अमेजन के साथ 16 लाख कर्मचारी काम करते थे। कंपनी ने इस साल अप्रैल में यह भी कहा था कि उसके पास जरूरत से ज्यादा कर्मचारी हो चुके हैं।

उसने यह भी कहा था कि महामारी के चलते Leave पर गए कर्मचारी काम पर लौट आए हैं। इस कारण से हम कुछ ही दिनों में Understaff से Overstaff हो गए हैं।

इससे उत्पादकता में काभी प्रभावित हो रही है। कंपनी अपने कुछ Warehouses को लीज पर चढ़ा रही है और Office Space Development को फिलहाल बिल्कुल ही रोक रही है।

Apple

एप्पल ने अभी तक इस बारे में आधिकारिक तोर पर कुछ भी नहीं बताया है। हालांकि एक Report में मामले से जुड़े सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि कंपनी आर्थिक मंदी से जूझने के लिए भर्तियां कम करने और कुछ Divisions में खर्च घटाने की योजना पर बहुत गंभीर तरीके से काम कर रही है।

सितंबर 2021 तक के उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार बता दे, एप्पल के साथ 1.54 लाख कर्मचारी काम कर रहे थे।

Facebook

फेसबुक की पैरेंट कंपनी Meta ने इंजीनियरों की भर्ती की योजना कम से कम 30 फीसदी कम कर दी है। कंपनी के ICO मार्क जुकरबर्ग ने कर्मचारियों से बताया है कि वह हालिया इतिहास के सबसे बुरे आर्थिक दौर में से एक की उम्मीद कर रहे हैं।

बता दे कि इस साल मार्च के अंत तक Social Medium और Internet कंपनी के साथ करीब 78 हजार लोग काम कर रहे थे।

Microsoft

माइक्रोसॉफ्ट ने मई में कर्मचारियों को बताया था कि वह Windows Office और टीम ग्रुप्स में भर्तियां कम करने जा रही है, ताकि आर्थिक उथल-पुथल के लिए तैयार रह सकते है।

हाल में कंपनी ने कुछ हद तक कटौतियां भी की थी, जो उसके Workforce के 01 फीसदी से भी कम रहा। साल 2021 के अंत तक कंपनी के पास 1.81 लाख कर्मचारी थे।

Netflix

Video Streaming Platform चलाने वाली कंपनी नेटफ्लिक्स, जिसने कई राउंड में छंटनियां कर चुकी हैं नेटफ्लिक्स ने सबसे पहले मई में 150 लोगों को नौकरी से निकाला।

इसके बाद जून में कंपनी ने फिर से 300 कर्मचारियों की छंटनी की है। कंपनी को विभिन्न कारणों से Subscribers के मामले में भारी नुकसान का सामना करना पड़ रहा है।

पहली तिमाही में नेटफ्लिक्स के Subscribers की संख्या में 2 लाख की गिरावट आई। बता दे कि इसके बाद जून तिमाही में कंपनी को 9.70 लाख Subscribers गंवाने पड़े है। जबकि नेटफ्लिक्स कंपनी में पिछले साल के अंत तक 11,300 कर्मचारी काम कर रहे थे।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.