HomeNaukriBihar Police Job : बिहार में...

Bihar Police Job : बिहार में डायल-112 में कुल 19 हजार पुलिस की निकली भर्ती, जानें पूरी प्रक्रियाएं

बिहार में डायल-112 यानी ERSS (Emergency Response Support System के दूसरे चरण की शुरुआत होने जा रही है.

इसमें की 800 नये चारपहिया वाहनों ( Four Wheelers) के साथ ही 200 मोटरसाइकिलें भी खरीदी जायेंगी.

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

बता दें कि यह पहला मौका है, जब ERSS में मोटरसाइकिलें भी शामिल की जा रही हैं.

ताकि कोई भी घटना होने पर संकरी गलियों में भी आसानी से प्रवेश कर सके. कई शहरों में ऐसी गलियां मौजूद हैं,

जहां की गाड़ी प्रवेश नहीं कर सकती है. साथ ही शहरों में जाम की स्थिति होने पर घटना स्थल तक जल्द पहुंचा जा सके.

आपको यह बता दें कि मोटरसाइकिल खरीदने से संबंधित प्रस्ताव तैयार किया जा रहा है. इसके अलावा भी ERSS का संचालन

सही तरीके से करने के लिए सिपाही से लेकर दारोगा तक के 19 हजार कर्मियों की बहाली की जायेगी. साथ ही यह बहाली दो चरणों में की जायेगी.

ERSS में बहाली से संबंधित प्रस्ताव पर बता दें कि Cabinet की मंजूरी मिल चुकी है. इसके बाद अब वित्त विभाग

समेत अन्य विभागों से अंतिम रूप से मोहर लगने के बाद इससे संबंधित अधिसूचना (Notification) अब राज्य सरकार (State Government) जारी करेगी.

इसके साथ ही बहाली की प्रक्रिया शुरू हो जायेगी। इस वर्ष के अंत तक पुलिस महकमा में करीब 67 पदों पर बहाली होनी ही है,

अब जिसमें सिपाही की संख्या सबसे ज्यादा है. इसकी शुरुआत ERSS में होने वाली बहाली से होने जा रहा है.

पुलिस महकमा नये वर्ष (New Years) में अपनी क्षमता का विस्तार करने के साथ ही ERSS को सुदृढ़ करने पर खासतौर से ध्यान दे रही है.

वर्तमान में डॉयल-112 में Total 400 गाड़ियां तैनात हैं। 800 नई गाड़ियां आने से इनकी संख्या बढ़कर 1200 हो जाएगी.

तो तब पूरे राज्य में कोई घटना होने पर पुलिस 20 से 25 मिनट में अब आसानी से पहुंच पायेगी.

डॉयल-112 में प्रति वाहन तीन सिपाही एक जमादार या दारोगा समेत चार कर्मी की आवश्यकता पड़ती है। तीन शिफ्ट में एक वाहन पर पूरे 12 कर्मियों की Duty रहती है.

800 नये वाहनों के आने पर पूरे नौ हजार 600 कर्मियों की आवश्यकता होगी. इसके अलावा इसे संचालित करने के लिए चल रहे,

Command Center पर अभी करीब 300 कर्मी कार्यरत हैं। 90-90 की संख्या में तीन शिफ्ट में इनकी ड्यूटी लगती है.

जो इसमें Call Taker से लेकर Dispatcher तक शामिल हैं. गाड़ियों की संख्या बढ़ने पर Control Center के भी

कर्मियों की संख्या में बढ़ोतरी होगी। इनकी संख्या 800 तक करने की योजना है. क्षमता बढ़ने पर इसके Software को भी अपग्रेड किया जा रहा है.

________________________
सभी लेटेस्ट Sarkari Naukri अपडेट व अन्य News जानने के लिए इस व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े.

Whatsapp GroupJoin Now

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.