HomeLifestyleLife Style: अगर आपको ही हर...

Life Style: अगर आपको ही हर बार काटते हैं मच्छर! तो हैं ये 4 कारण, जानिए क्यों Mosquitoes के फेवरेट हो आप

Mosquito Bites: यदि आपको ऐसा लगता है कि आप मच्छरों का मनपसंद शिकार हैं तो आप बिल्कुल गलत नहीं हैं। यहां आपको बताया जाएगा की क्यों मच्छर हाथ धोकर आपके पीछे ही पड़े रहते हैं।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

खास बातें

  • • कुछ लोगों को जरूरत से ज्यादा शिकार बनाते हैं मच्छर।
  • • इस कारण काटने लगते हैं।
  • • सबके शरीर में दिखते हैं अलग लक्षण।

Mosquito Target: यदि आपको लगता है कि मच्छर हर जगह आपको ही ढूंढ-ढूंढकर काटते हैं या आपके पीछे ही पड़े रहते हैं तो आप बिल्कुल भी गलत नहीं हैं।

मच्छर लोगों की भीड़ में भी खासतौर से आपको ही खाते हैं और इसके पीछे आपका वहम नहीं बल्कि कई सारे कारण हैं। Studies बताती हैं कि

 मच्छरों (Mosquitoes) का आपको सबसे ज्यादा काटने के पीछे क्या कारण हैं जोकि आपको बेहद ही हैरान कर सकते हैं हालांकि,

यहां मामला मीठे या कड़वे खून का नहीं है बल्कि कई अलग चीजे हैं। आप भी जान लीजिए इसकी असल वजह क्या है।

कुछ लोगों को ज्यादा क्यों काटते हैं मच्छर ( Why Mosquitoes Bite Some People More)। 

• Blood Type


कई सारे Studies का कहना है कि Blood Type O को ज्यादा मच्छर काटते हैं। मच्छर इस ब्लड ग्रूप से ज्यादातर आकर्षित होते हुए देखे गए हैं।

वहीं, Metabolic Rate भी मच्छरों की पसंद को प्रभावित करता है। Pregnant Women और मोटे लोगों का Metabolic Rate काफी ज्यादा होता है जिस वजह से मच्छर उन्हें ज्यादा काटते हैं।

• पसीना और महक (sweat and smell)

मच्छर खुशबू-बदबू सब सूंघ सकते हैं। उन्हें Lactic Acid, Ammonia, and Other Compounds की भी पहचान अच्छे से होती है जो पसीने के माध्यम से शरीर से निकलते हैं

यदि मच्छरों को आपके शरीर से आ रही गंध (Body Odour) अच्छी लगेगी तो वे आपको ज्यादा काट सकते हैं।

• त्वचा (Skin)

स्किन के ऊपर मौजूद बैक्टीरिया मच्छरों के लिए आमंत्रण होता है. कई रिसर्च कहती हैं कि व्यक्ति के शरीर पर जितने बैक्टीरिया होंगे उतने ही मच्छर उसकी तरह आएंगे. इस चलते भी मच्छर ज्यादातर पैरों में काटते हैं क्योंकि वहां बैक्टीरिया (Bacteria) ज्यादा देखे जाते हैं. 

• गैस 

Carbon Dioxide एक ऐसी गैस है जिसकी मच्छरों को पहचान है। इसके साथ ही, मच्छर 5 से 15 मीटर दूर से भी मच्छर अपने निशाने को पहचान लेते हैं

अब जो लोग जितनी लंबी सांसे लेते हैं यानी Carbon Dioxide Produce करते हैं, उतने ही मच्छर उनके तरफ ही आकर्षित होते हैं।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.