HomeCareerFree Coaching Scheme: बिहार की लडकियों...

Free Coaching Scheme: बिहार की लडकियों को अब मुफ्त में मिलेगा कोचिंग, नीतीश सरकार ने शुरू की नई पहल, जाने डिटेल्स

Free Coaching Scheme: नीतीश सरकार Backward Class और Very Backward Class की लड़कियों को आवासीय सुविधा के तहत आनलाइन पढ़ाई और निश्शुल्क में मेडिकल और इंजीनियरिंग की कोचिंग कराने की व्यवस्था में जुटी हुई है साथ ही इसके खास मायने भी हैं।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर Backward Classes and Most Backward Classes Welfare Department ने सभी 38 जिलों में स्थित अन्य पिछड़ा वर्ग Girls Residential Higher Secondary Schools में आनलाइन पढ़ाई होगी.

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

इससे एक Academic Session में 35 हजार से ज्यादा लड़कियों को आनलाइन पढ़ाई का लाभ भी मिलेगा, लड़कियों को विषय के मुताबिक Hard Copy उपलब्ध कराई जाएगी.

सभी कन्या आवासीय विद्यालयों में इसकी तैयारी पूरी तरह हो चुकी है और अगस्त में इसकी पढ़ाई शुरू कर दी जाएगी।

नामचीन कोचिंग संस्थानों से उपलब्ध होगी स्टडी मैटेरियल:

पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा कल्याण विभाग की ओर से संचालित कन्या आवासीय विद्यालयों (कक्षा 6 से 12 तक) की छात्राओं को निःशुल्क में इंटरनेट की सुविधा भी मिलेगी.

वहीं छात्राओं को JEE एवं NEET और Competitive Examinations की तैयारी कराने वाले नामचीन कोचिंग संस्थानों से तैयार स्टडी मैटेरियल हार्ड कापी एवं साफ्ट कापी भी उपलब्ध करवाया जाएगा।

साथ ही सप्ताह में एक दिन विशेषज्ञों द्वारा Special Class भी लिया जाएगा, जिससे छात्राओं को होने वाली समस्या को भी दूर किया जा सके और इसके लिए विभाग ने कई कोचिंग संस्थानों से Agreement किया है।

विभाग ने Online Class के लिए Girls Residential Schools में Tv Screen, Net, Web के साथ ही Digital Black Board की व्यवस्था की है.

खास बात यह कि सभी आवासीय विद्यालयों में संचालित होने वाली आनलाइन क्लास की मॉन्टियरिंग Headquarters स्तर पर की जाएगी।

इस दौरान मुख्यालय में बैठे अधिकारी शिक्षकों के साथ ही छात्राओं की गतिविधियों पर भी नजर रखेंगे.

मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग मेधावृत्ति योजना बजट में 10 गुणा बढ़ोतरी:

पिछड़ा वर्ग एवं अति पिछड़ा वर्ग कल्याण विभाग के Secretary General पंकज कुमार ने बताया कि अन्य पिछड़ा वर्ग कन्या आवासीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्राओं के अतिरिक्त

अति पिछड़ा वर्ग छात्रावासों में रहकर पढ़ाई करने वाले छात्रों को भी Medical और Engineering समेत अन्य Competitive Examinations की तैयारी के लिए निश्शुल्क कोचिंग की व्यवस्था भी की गई है.

वहीं मुख्यमंत्री अत्यंत पिछड़ा वर्ग Merit Scholarship Scheme का बजट में 10 गुणा बढ़ाया गया है, ताकि ज्यादा से ज्यादा छात्र-छात्राओं को योजना का लाभ मिल सके.

2008-09 में इस योजना का बजट 10 करोड़ 67 लाख रुपये था, जिसे बढ़ाकर 105 करोड़ रुपये कर दिया गया है।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.