HomeNewsचार महीने पढ़ाई करके पहले ही...

चार महीने पढ़ाई करके पहले ही अटेम्प्ट में बन गई IAS, मार्कशीट के नंबर्स को देखकर UPSC एस्पिरेंट्स के उड़े होश!

IAS Officer Saumya Sharma: कई लोग साल दर साल सिविल सेवा परीक्षा (Union Public Service Commission) को पास करने की कोशिश करते हैं, लेकिन कुछ ही लोग इसे पास कर पाते हैं। Saumya Sharma जी ने इसे पहले ही प्रयास में हासिल कर दिखाया।

बहुत सारे लोगों को अपने सपनों को छोड़ना पड़ता है क्योंकि उनके पास उन्हें पूरा करने का विशेषाधिकार नहीं होता है।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

लेकिन इस महिला ने तो अपनी कड़ी मेहनत और दृढ़ निश्चय से अपने सपनों को साकार करने बड़ा ही अहम का काम किया। हम बात कर रहे हैं IAS Officer Saumya Sharma जी की, जो दिल्ली की रहने वाली हैं।

सौम्या शर्मा IAS सभी सिविल सेवा उम्मीदवारों (UPSC Aspirants) के लिए एक प्रेरणा बानी हैं, क्योंकि सुनने की क्षमता खोने के बावजूद उन्होंने UPSC परीक्षा को पास करने के लिए कड़ी से कड़ी मेहनत की है।

Who is IAS Saumya Sharma

जीवन में आने वाली चुनौतियों और कठिनाइयों को समझने के लिए हमें 2017 बैच के IAS Saumya Sharma जी की कहानी अवश्य ही जाननी चाहिए।

16 साल की उम्र में ही सौम्या ने अपनी सुनने की शक्ति का 90 से 95 प्रतिशत तक खो दिया। इसके बावजूद, जिस तरह से उन्होंने आगे बढ़कर UPSC परीक्षा में भाग लिया और साथ ही 2017 में पहले प्रयास में All India Rank 9 हासिल की,

वह लाखों लोगों के लिए एक बहुत बड़ी ही प्रेरणा है। कई लोग साल दर साल सिविल सेवा परीक्षा (Union Public Service Commission) को पास करने की कोशिश निरतंर करते रहते हैं,

लेकिन कुछ ही इसे पास कर पाते हैं। Saumya Sharma ने इसे पहले ही प्रयास में हासिल कर लिया.

उनकी Marksheet Social Media पर Viral हो गई थी। उन्होंने सभी पेपरों में बहुत ही बेहतरीन अंक प्राप्त किए थे। सौम्या शर्मा जी ने पहले प्रयास में UPSC की परीक्षा पास की थी।

और सबसे भी ज्यादा हैरानी की बात यह है कि उन्होंने इसके लिए सिर्फ चार महीने ही तैयारी की थी।

सुनने की शक्ति खोने के बावजूद सौम्या जी ने UPSC पास किया

दिल्ली की रहने वाली सौम्या शर्मा जी ने महज 16 साल की उम्र में अचानक ही अपनी सुनने की क्षमता खो दी और उन्हें Hearing Aid की मदद लेनी पड़ गयी थी।

लेकिन, उन्होंने इसे कभी भी अपनी कमी नहीं बनने दिया। इस शारीरिक बाधा को पार करते हुए सौम्या जी ने महज 23 साल की उम्र में बिना किसी कोचिंग के सहयता से सिविल सेवा परीक्षा दी।

उनके अनुसार, UPSC Exam को Crack करना किसी अन्य परीक्षा को पास करने जैसा था, जहां आपको केवल उचित योजना और अच्छी रणनीति की आवश्यकता होती है।

सौम्या जी ने National Law University, दिल्ली से LLB किया है। कानून के अपने अंतिम वर्ष में, सौम्या जी ने 2017 में UPSC सिविल सेवा की तैयारी करने का फैसला किया।

और साथ ही उसी वर्ष, सौम्या जी ने UPSC Prelims और UPSC Mance परीक्षा में भाग लिया। सौम्या 23 साल की ही थीं जब उन्होंने UPSC की परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में परीक्षा पास कर अपने परिवार को गौरवान्वित किया।

गौरतलब है कि Mence Exam परीक्षा के दौरान उसे तेज बुखार था और वह बिस्तर से उठ भी नहीं पा रही थी और GS का Revision बिल्कुल भी नहीं कर पा रही थी. फिर भी, वह पीछे नहीं हटी और UPSC की परीक्षा पूरी की।

हर दिन 16 घंटे की पढ़ाई करती थी सौम्या

सौम्या जी को विकलांग व्यक्ति की श्रेणी में शामिल कर दिया गया था क्योंकि उन्होंने अपनी सुनने की क्षमता को खो दी थी, लेकिन विकलांग कोटे के तहत UPSC सिविल सेवा Form भरने से इनकार कर दिया,

और सामान्य श्रेणी का विकल्प चुना। सौम्या के माता-पिता पेशे से डॉक्टर हैं और साथ ही वह भी उन्हीं की तरह बनना चाहती है लेकिन उसने अपना मन बदल लिया।

और कानून पढ़ाई करने लगी। सौम्या जी अपने स्कूल के दिनों से ही मेधावी छात्रा रही हैं। उन्होंने दसवीं कक्षा में भी TOP किया था। वह शुरू से ही Current Affairs में रुचि रखती है क्योंकि उन्होंने सिर्फ तीन साल की उम्र में ही अखबार पढ़ना शुरू कर दिया था,

और साथ ही उन्होंने UPSC परीक्षा को पास करने के लिए हर दिन 16 घंटे से अधिक का अध्ययन किया करती थी यही कारण है कि उसने पहले प्रयास में UPSC की परीक्षा को पास कर पाई

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.