HomeIndiaIAS Success Story : कुली का...

IAS Success Story : कुली का काम करने वाले बने IAS ऑफिसर, रेलवें का WiFi बना मददगार, जाने सफलता की यह जर्नी

IAS Officer Sreenath K Success Story: किसी ने सच ही कहा है कि “कौन कहता है कि कामयाबी सिर्फ किस्मत तय करती है, अगर इरादों में दम हो तो मंजिलें खुद-ब-खुद झुका करती हैं.”

ऐसे ही कुछ मजबूत इरादे थे एर्नाकुलम स्टेशन पर कुली का काम करने वाले IAS Officer Sreenath जी के,

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

जिन्होंने अपने घर की जिम्मेदारियों को उठाने के साथ ही साथ अपनी किस्मत को भी बखूबी आजमाया और अंत में देश की सबसे कठिन UPSC परीक्षा को पास कर IAS Officer बन गए।

कुछ साल पहले तक कुली का काम करने वाले श्रीनाथ जी ने IAS Officer बनकर दुनिया में सफलता की एक नई मिसाल कायम की है

आपदा को अवसर में बदल हासिल की सफलता IAS Officer

जैसा कि अक्सर आपने लोगों को यह तो जरूर ही देखा होगा कि वे कामयाबी न मिलने पर कई तरह के बहाने बनाते है या फिर कई तरह की शिकायतें करते है।

इसमें अधिकतर लोगों को आपने देखा होगा कि वे संसाधनों की कमी को खुद के कामयाब न होने की वजह बताते हैं। उनका यह भी मानना होता है

कि अगर उन्हें सारी सुख-सुविधाएं मिली होती तो वे यकीनन जीवन में सफलता हासिल कर लेते। हालांकि, श्रीनाथ जी इन लोगों में से बिल्कुल भी नहीं हैं।

उन्हें संसाधनों की कमी को लेकर कभी कोई शिकायत नहीं रही। श्रीनाथ जी ने कभी भी उनके जीवन में संसाधनों की कमी को अपने कामयाबी के आड़े बिल्कुल आने नहीं दिया।

वो हमेशा आपदा को अवसर में बदलने की सोच रखते थे और इसी कारण से वे अपने जीवन में एक नया मुकाम हासिल करने में सफल रहे।

बिना कोचिंग क्रैक की UPSC और KPSC

देश भर में लाखों लोग UPSC की परीक्षा देते हैं और अपनी किस्मत को आजमाते हैं। हालांकि, उनमें से कुछ प्रतिशत छात्र ही इस परीक्षा को क्रैक कर पाते हैं और Officer का पद का हासिल कर पाते हैं

इस परीक्षा को पास करने के लिए बहुत से छात्र कई सालों तक शहरों के बड़े-बड़े कोचिंग संस्थानों में लाखों रुपए फीस खर्च करते हैं।

लेकिन श्रीनाथ जी जैसे भी कुछ अभ्यर्थी होते हैं, जो UPSC की कोचिंग के लिए इतनी फीस नहीं Pay कर सकते, इसलिए वे Self Study के जरिए ही इस परीक्षा को पास करने का प्रयास करते हैं.

आपको बता दें कि श्रीनाथ जी मूलरूप से केरल के एर्नाकुलम के रहने वाले हैं। वे एर्नाकुलम रेलवे स्टेशन पर ही कुली का काम भी किया करते थे।

रेलवे के फ्री WiFi के जरिए की तैयारी

श्रीनाथ जी के पास इतने पैसे नहीं थे कि वे UPSC की तैयारी के लिए किसी भी कोचिंग सेंटर की फीस दे सकें। अब ऐसे में उनके मन में यह बात आई कि वे बिना कोचिंग के इस कठिन परीक्षा को पास नहीं कर पाएंगे।

यही कारण था कि उन्होंने सबसे पहले केरल लोक सेवा आयोग (KPSC) की परीक्षा देने का मन बनाया। साथ ही उनकी इस कठिन राह को रेलवे स्टेशन पर लगे Free Wi-Fi ने आसान बना दिया।

उन्होंने स्टेशन पर लगे Free Wi-Fi से अपने Smartphone के जरिए पढ़ाई शुरू कर दी। यह Free Wi-Fi श्रीनाथ जी के लिए किसी वरदान से कम नहीं था।

वह यहां कुली का काम करते थे और जब-जब उन्हें समय मिलता था वे परीक्षा की तैयारी करने लगते थे। साथ ही सच्ची लगन और मेहनत के जरिए श्रीनाथ ने केरल लोक सेवा आयोग (KPSC) की पीरक्षा पास कर ली।

इस परीक्षा में सफलता हासिल करने के बाद श्रीनाथ के मन में यह ख्याल आया कि वे रेलवे के Free Wi-Fi की मदद और अपनी सच्ची लगन के जरिए UPSC की परीक्षा भी पास कर सकते हैं।

IAS बन कायम की मिसाल

इसके बाद उन्होंने UPSC की परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी और साथ ही यही परीक्षा पास भी कर ली.। उन्होंने बिना किसी कोचिंग के UPSC की परीक्षा पास कर एक मिसाल कायम कर दी है।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.