HomeBankMIS Saving Scheme: अपने पार्टनर के...

MIS Saving Scheme: अपने पार्टनर के साथ इस स्कीम में खुलवाएं खाता, हर महीने होगी आपकी कमाई, जाने डिटेल्स

MIS Saving Schemes: अगर आप आने वाले दिनों में निवेश (Investment) करने की सोच रहे हैं, तो Post Office की सेविंग्स स्कीम्स मे कर सकते हैं।

इन Schemes में आपको अच्छा रिटर्न तो मिलता ही है, साथ में, इसमें निवेश (Investment) किया गया पैसा भी पूरी तरह सुरक्षित रहता है।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

अगर Bank Default होता है, तो आपको पांच लाख रुपये की ही राशि वापस मिलती है, लेकिन डाकघर (Post Office) में ऐसा नहीं है।

इसके अलावा Post Office Saving Scheme में बेहद कम राशि से निवेश शुरू किया जा सकता है. पोस्ट ऑफिस की Small Saving Scheme में पोस्ट ऑफिस मंथली इनकम स्कीम (MIS) भी शामिल है।

ब्याज दर:

पोस्ट ऑफिस की Monthly Income Scheme में मौजूदा समय में 6.6 फीसदी की ब्याज दर मौजूद है, यह ब्याज दर 1 अप्रैल 2020 से लागू है।

इस Small Saving Scheme में ब्याज का भुगतान मासिक आधार पर किया जाता है।

कितना निवेश करना होगा:

डाकघर की Monthly Income Scheme में व्यक्ति 1000 रुपये के मल्टीपल में निवेश कर सकता है, इस छोटी बचत योजना में Single Account में अधिकतम 4.5 लाख रुपये और Joint Account में 9 लाख रुपये तक का निवेश किया जा सकता है।

मंथली इनकम स्कीम में एक व्यक्ति अधिकतम 4.5 लाख रुपये का निवेश (Investment) कर सकता है, इसमें ज्वॉइंट अकाउंट में उसका हिस्सा शामिल है।

Joint Account में एक व्यक्ति की हिस्सेदारी को कैलकुलेट करते समय, हर Joint Holder का ज्वॉइंट अकाउंट में बराबर हिस्सा होगा।

कौन खोल सकता है अकाउंट ?

Post Office की इस स्कीम में एक वयस्क या तीन वयस्क तक साथ मिलकर ज्वॉइंट अकाउंट खोल सकते हैं, इसके अलावा इस Small Saving Scheme में नाबालिग या कमजोर दिमाग के व्यक्ति की ओर से अभिभावक भी ये खाता खोल सकता है।

इसके साथ 10 साल से ज्यादा उम्र का नाबालिग अपने खुद के नाम में भी खाते को खोल सकता है।

मैच्योरिटी:

पोस्ट ऑफिस की Monthly Income Scheme में अकाउंट को खोलने की तारीख से 5 साल की अवधि खत्म होने के बाद बंद किया जा सकता है।

इसके लिए व्यक्ति को संबंधित Post Office में पासबुक के साथ उपयुक्त Application Form जमा करना होगा और अगर खाताधारक की मौत मैच्योरिटी से पहले हो जाती है,

तो अकाउंट को बंद किया जा सकता है और राशि उसके Nominee या कानूनी उत्तराधिकारी को Refund कर दी जाएगी।

ब्याज का भुगतान जिस महीने में रिफंड किया गया है, उससे पिछले महीने तक होगा।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.