HomeBiharBihar News : जमीन रजिस्ट्री कराने...

Bihar News : जमीन रजिस्ट्री कराने से पहले जान लीजिए महत्वपूर्ण बातें, बचेंगे लाखों रुपए, महिला खरीदार को मिलेगी छूट…

Bihar News: जमीन का Registration कराना हुआ बड़ी बात है। लेखन बता दे कई प्रकार के होते हैं. संपत्ति पंजीकरण के लिए भुगतान करने के लिए एक मोटी Fees भी है. ये शुल्क संपत्ति की कुल राशि के 5-7% तक हो सकते हैं.

अगर आप 50 लाख रुपये की संपत्ति Registered करने जा रहे हैं, तो आप कुछ आसान चरणों के साथ 2-5 लाख रुपये से 3.5 लाख रुपये आप बचा सकते हैं.

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

घर खरीदने के पूरे बजट का ज्यादातर हिस्सा Registry पर ही खर्च हो जाता है. यदि इसमें आपका कुछ पैसे बच गए हैं, तो यह आपके लिए एक Plus Point साबित होगा.

उस पैसे का इस्तेमाल किसी और काम में किया जाएगा. आप आंतरिक सज्जा में पैसा निवेश कर सकते हैं. तो चलिये जानते हैं Property Registration Charge बचाने के मुख्य 3 तरीके…

बाजार मूल्य पर Registration Fee का भुगतान करें :

कई बार यह देखा गया है कि Circle Rate ज्यादा होने पर Property की Market Value बहुत ही कम होती है बाजार मूल्य पर कम स्टांप शुल्क का भुगतान करते हुए उच्च सर्किल दरों पर उच्च स्टांप शुल्क लगेगा.

ऐसे मामलों में, आप रजिस्टार या सब-रजिस्ट्रार से अपील करके Stamp Duty पर आसानी से बचत कर सकते हैं. यह प्रावधान State Stamp Act के तहत किया गया है.

यदि रजिस्ट्रार से बाजार मूल्य पर स्टांप शुल्क वसूलने की अपील की जाती है, तो बिक्री विलेख पंजीकरण के पूरा होने तक लंबित रहेगा.

रजिस्ट्रार या सब रजिस्ट्रार आपके मामले को डीसी के पास भेजता है जो बाजार मूल्य के अनुसार स्टांप शुल्क का आकलन करता है. साथ ही यदि ऐसे में आप खरीदार हैं तो आपको Stamp Duty पर बचत का फायदा जरूर मिलेगा.

अविभाजित भूमि की रजिस्ट्री ‘इकोनॉमिक टाइम्स’

इस रिपोर्ट के According, भविष्य के निर्माण या निर्माणाधीन परियोजनाओं की अविभाजित भूमि रजिस्ट्री तक पहुंच होती है. इस स्थिति में, खरीदार बिल्डर के साथ दो समझौते किया जाता है.

बिक्री समझौते और निर्माण समझौते. बिक्री समझौता संपत्ति के अविभाजित हिस्से के लिए है, मतलब आम क्षेत्र में खरीदार का हिस्सा.

इसमें जमीन की कीमत और जमीन पर निर्माण की लागत शामिल होती है. अविभाजित भूमि खरीदना सस्ता है क्योंकि निर्मित क्षेत्रों के लिए कोई पंजीकरण शुल्क भुगतान नही करना होता है.

मान लीजिए कि एक Apartment बनाने की Cost 50 लाख रुपये है और इसके पार्सल में अविभाजित भूमि 20 लाख रुपये है, पंजीकरण शुल्क और 20 लाख रुपये का स्टांप शुल्क देना पड़ता हैं.

महिला खरीदार को छूट

अगर कोई महिला संयुक्त या एकल खरीद में संपत्ति की खरीद में शामिल है, तो कई सारे राज्यों में Stamp Duty और Registration Fee में छूट है.

जिसमे Haryana Delhi Punjab Rajasthan और Uttar Pradesh शामिल हैं. Delhi Government के अनुसार यदि कोई जमीन पुरुष के नाम पर Registered है तो उसे महिला के नाम पर 6 फीसदी और 4 फीसदी रजिस्ट्री फीस देनी पड़ेगी.

वहीं, आप आवासीय संपत्तियों के पंजीकरण की लागत पर एक साल में टैक्स में 150,000 रुपये तक की बचत आसानी से कर सकते.

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.