HomeLNMULNMU: राजभवन की सख्त हिदायत के...

LNMU: राजभवन की सख्त हिदायत के बाद युद्धस्तर पर चल रही लंबित परीक्षा लेने की तैयारी, इसी महीने होंगी लंबित परीक्षाएं

Darbhanga LNMU News: कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय की लंबित परीक्षाएं इसी महीने शुरू होने वाली हैं. इसकी तैयारियां युद्धस्तर पर चल रही हैं. फिलहाल अभी तो सत्र दो वर्ष पीछे चल रहा है.

मालूम हो कि University में लंबे समय तक Officers के बीच चल रहे अंतरकलह के कारण परीक्षाओं का आयोजन नहीं हो पा रहा था. अन्य कार्यों के संपादन में भी व्यवधान हो रहा था. बड़े अधिकारी आपस मे ही एक-दूसरे के खिलाफ राजभवन में लगातार शिकायत पर शिकायत भेजते रहे थे.

________________________
अपने कॉलेज के नामांकन/परीक्षा/रिजल्ट की नोटिफिकेशन समय रहते जानने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े.

Whatsapp GroupJoin
University News on FBFollow
Telegram GroupJoin

NOTE : अगर आप Near News व्हाट्सएप ग्रुप में हैं तो लिंक पर क्लिक कर फेसबुक को फॉलो करें, आपके कॉलेज की महत्वपूर्ण खबर फेसबुक और टेलीग्राम पर मिलेगा.

इससे राजभवन भी परेशानी महसूस कर रहा था. अंततः Governor And Chancellor के प्रधान सचिव ने Vice Chancellor, Pro Vice Chancellor व Registrar को एक साथ 28 June को Raj Bhawan तलब किया.

Secretary General ने बारी-बारी से सभी Officers की समस्याएं सुनी और अंत में कहा कि Raj Bhawan में शिकायतों का पुलिंदा बन गया है. अब इससे आगे शिकायत नहीं, सभी कार्यों का निष्पादन सुचारू रूप से करें.

सभी मिल-जुलकर Priority के आधार पर Examinations का आयोजन और Result प्रकाशन करें. उन्होंने चेतावनी दी कि अगर

इसके बाद भी कार्य में थोड़ी सी भी बाधा होगी तो Raj Bhawan से उच्चाधिकारप्राप्त जांच समिति(High Powered Inquiry Committee) गठित कर सभी शिकायतों की जांच कराई जाएगी.

Raj Bhawan के इस हस्तक्षेप ने काम को आगे बढ़ाने में सहायता की है, और युद्धस्तर पर तैयारियां शुरू हो गई हैं।

सत्र 2021 की भी नहीं हुई थी परीक्षा

University में सभी Courses के छात्रों को मिलाकर कुल संख्या लगभग 15 हजार है. इन छात्रों के सत्र 2021 की भी अब तक इनकी परीक्षा नहीं हो पाई है.

Problem की Seriousness के मद्देनजर Vice Chancellor ने हाल ही में वरीय अधिकारियों की बैठक कर Pro Vice Chancellor प्रो. सिद्धार्थ शंकर सिंह को परीक्षा आयोजन के लिए अधिकृत करते हुए इससे जुड़े सभी अधिकार भी उन्हें दे दिये थे.

Pro Vice Chancellor ने इसे अनावश्यक बताते हुए जिम्मेदारी स्वीकार कर ली. प्रतिकुलपति ने Exam के कामकाज को आगे बढ़ाने के लिए DSW प्रो. सुरेश्वर झा की अध्यक्षता में टास्क फोर्स का गठन कर कुलपति से इस पर स्वीकृति भी प्राप्त कर ली.

टास्क फोर्स की बैठक हुई और कुछ निर्णय भी हुए लेकिन इसके बावजूद भी परीक्षा आयोजन के लिए कुछ सार्थक पहल बिल्कुल भी नहीं हो सकी थी.

दो वर्ष विलंब से चल रहा है सत्र

संस्कृत विवि में 2 वर्ष विलंब से सत्र चल रहा है, इसके कारणों के बारे में Covid-19 से उत्पन्न स्थिति ओर कर्मचारियों की कम संख्या तथा इसके बाद भी कर्मचारियों के पंचायत चुनाव के अलग अलग चरणों को संपन्न कराने में व्यस्तता बताया जाता है.

अब बदली परिस्थिति में जल्द ही परीक्षा की तिथि घोषित किए जाने और इसी माह परीक्षा शुरू हो जाने की संभावना जताई जा रही है।

इस संबंध में पूछे जाने पर कुलपति प्रो. शशिनाथ झा ने बताया कि, राजभवन में हुई बैठक के बाद परीक्षा के कार्यों में काफी तेजी आई है। अधिकतर काम निबटा लिए गए हैं और इसी महीने परीक्षा शुरू हो जाएगी.

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.