HomeIndiaMotor Vehicle Act:अक्टूबर 2022 से...

Motor Vehicle Act:अक्टूबर 2022 से पहले खरीदे गए टायर के साथ नहीं चला पाएंगे गाड़ी, नियम में होने वाला है बदलाव

Motor Vehicle Act: टायर की वजह से होने वाले सड़क हादसों को रोकने के लिए सरकार Motor Vehicle Act में कुछ जरूरी बदलाव करने जा रही है, नए नियमों के तहत आपकी गाड़ियों में इस्तेमाल होने वाले Tire भी बदल दिए जाएंगे।

टायरों में खराबी की वजह से होते हैं कई हादसे:

दुनियाभर में होने वाले सड़क हादसों की बहुत सारी वजह होती है और इन्हीं वजहों में गाड़ी में इस्तेमाल होने वाले खराब टायर भी शामिल हैं.

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

Poor Quality Tire, Old Tire, Damaged Tire के साथ चलने वाली गाड़ियां आए दिन हादसे का शिकार होती है.

लेकिन सरकार अब ऐसे हादसों को रोकने के लिए कुछ जरूरी और बड़े कदम उठाने वाली है, Motor Vehicle Act में होने वाले संशोधन में टायरों को भी शामिल किया गया है,

इसके तहत टायरों के Design को और ज्यादा प्रभावशाली बनाया जाएगा, ताकि रोड पर होने वाली एक्सीडेंट्स पर काबू पाया जा सके।

1 अक्टूबर, 2022 से मिलने लगेंगे नए डिजाइन के टायर:

नए नियम लागू होने के बाद आपको 1 अक्टूबर, 2022 से New Design के टायर मिलने शुरू हो जाएंगे. इतना ही नहीं, 1 अप्रैल 2023 से आपको अपनी गाड़ियों के पुराने टायर को बदलना जरूरी हो जाएगा।

हालांकि, इस बात को लेकर अभी तक कोई पुख्ता जानकारी नहीं मिल पाई है कि पुराने टायर के साथ गाड़ी चलाने को लेकर क्या नियम होंगे,

इसके साथ ही उन लोगों का क्या होगा, जिन लोगों ने अभी हाल-फिलहाल में ही अपनी गाड़ी के टायर को बदलवाया होगा,

ये कुछ ऐसे सवाल हैं, जिनके जवाब फिलहाल दे पाना मुश्किल है लेकिन जल्द ही इन सवालों के जवाब भी हमे मिल जाएंगे।

नए टायरों को Rating दी जाएगी, जिससे ग्राहकों को टायर खरीदते समय काफी मदद मिलेगी और वे Better Quality के टायर खरीद पाएंगे.

हालांकि, टायरों की रेटिंग किस प्रकार तय की जाएगी, इसके बारे में भी अभी कोई पूर्ण रूप से जानकारी नहीं मिल पाई है।

AIS के 3 मानकों पर आधारित होगा टायर का डिजाइन:

मिली कुछ रिपोर्ट के मुताबिक़ टायरों को लेकर नए नियम लागू होने के बाद दूसरे देशों से बेकार क्वालिटी के टायर नहीं आ पाएंगे,

नए टायर, पुराने टायर के मुकाबले मजबूत होंगे, जिनकी Quality काफी शानदार होगी।

इसके अलावा, ये पुराने टायरों के मुकाबले सड़क पर बेहतर पकड़ यानी Grip बना सकेंगे. नए टायर, AIS यानी Automotive Indian Standard के मानकों- Rolling Resistance, Wet Grip और Rolling Sound Emissions पर आधारित होंगे।

यानी नए टायर वाली गाड़ियां सड़कों पर चलते समय ज्यादा शोर-शराबा भी नहीं मचाया करेंगी.

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.