HomeHealthParenting Tips: समय से पहले जवान...

Parenting Tips: समय से पहले जवान हो रही है आपकी बेटी? इंडियन पैरेंट्स समझें जरूरी संकेत और ना करें ये गलतियां

Parenting Tips: लड़कियों में Puberty की शुरूआत जल्दी से होना आजकल काफी Common बात है। अब ऐसे में बहुत से Parents इस बात को लेकर

बहुत चिंतित रहते हैं कि आखिर क्यों उनकी बेटियों में Puberty की शुरुआत जल्दी मात्रा में हो रही है या यू की वह समय से पहले ही क्यों इतनी बड़ी होने लगी हैं।

Research ने इसे लेकर बहुत से बातें कही हैं। तो आइए जानते हैं क्या है लड़कियों में Puberty जल्दी शुरू होने का कारण।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

बता दे कि Purty उस समय को कहा जाता है जिसमें लड़के और लड़कियों में शारीरिक बदलाव होने शुरू हो जाते हैं। किशोरावस्था तक पहुंचने के दौरान शरीर में कई अंगों का विकास होना शुरू होता है और कई बदलाव भी देखने को पाते हैं।

ये प्रक्रिया आमतौर पर लड़कियों में 10 से 14 साल की उम्र में ही शुरू होने लगती है, वहीं लड़कों में यह 12 से 16 साल की उम्र में शुरू होती है। Puberty (किशोरावस्था) के दौरान लड़कियों और लड़कों में अलग-अलग तरह के Changes देखने को मिलते हैं।

लड़कियों में Puberty के दौरान Breast Size बढ़ने लगता है। लेकिन बदलते समय के साथ ही लड़कियों में समय से पहले ही Purty के बहुत से मामले सामने देखे जा रहे हैं।

इसके लिए Parents कई बार Doctors के पास भी जाते हैं ऐसा ही एक Same मामला सामने आया है जिसमें एक Parents ने Doctor को बताया कि उनकी बेटी की उम्र मात्र 7 साल की है और वह अभी भी गुड़िया से खेलती है।

अब इस छोटी सी ही उम्र में उसके Breast का Size बढ़ने लगा है… ऐसे में क्या इसके लिए दूध और मीट में मौजूद Hormones जिम्मेदार हैं या फिर खाने में मौजूद हुआ Antibiotics

साथ ही parents का यह भी सवाल रहा कि क्या उनकी बेटी को 8 साल की छोटी सी उम्र में ही क्या Periods शुरू हो जाएंगे?

एक बार Doctor और Endocrinologist ने बताते हुए कहा कि, मैंने ऐसी बहुत सी लड़कियों को देखा है जिन्हें बहुत ही छोटी सी उम्र में Purty से गुजरना पड़ता है।

और यह हम अच्छे से जानते हैं कि जिन लड़कियों को समय से पहले Puberty से गुजरना पड़ता है, उन्हें आने बाले Future में कई तरह की Medical और Psychological समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

जैसे depression, मोटापा, Eating Disorder और साथ ही कैंसर का भी सामना सम्भवतः करना पड़ सकता है।

Puberty यानी किशोरावस्था में पहुंचने के संकेत

बहुत सारे लोग Periods शुरू होने को Puberty की शुरुआत समझ लेते हैं। लेकिन breast और Pubic Hairs (प्राइवेट पार्ट के पास बाल) का विकास Puberty का पहला संकेत होता है।

आर्मपिट से आने वाली Smell, Arms के बाल, मुंहासे और यहां तक कि Moodiness Puberty के Medical लक्षण नहीं हैं लेकिन इन्हें भी इसके साथ जोड़ा जाता है।

पुराने जमाने में 8 साल की उम्र से पहले Puberty के संकेतों का दिखना असामान्य माना जाता था लेकिन आजकल के समय में यह 15 फीसदी लड़कियों में 7 साल की उम्र में ही Breast का विकास होने साधारण लगता है,

और 10 फीसदी लड़कियों के Pubic Hairs का आना शुरू होने लगता है। 8 साल की उम्र तक 25 फीसदी लड़कियों का Breast Size बढ़ने लगता है, वहीं 20 फीसदी लड़कियों के Pubic Hairs आने शुरू हो जाते है।

Early Puberty या जल्दी किशोरावस्था शुरू होने की वजह को जाने

Mount Sinai Hospital और University of Cincinnati Medical Center की ओर से की गई एक Study में इस बात का पता चला है कि Puberty जल्दी शुरू होने पर मोटापे का खतरा काफी ज्यादा मात्रा में बढ़ जाता है।

Fat एक काफी Active Hormone Gland होती है और Fat Sales बाकी Hormones को Estrogen में बदल देता है।लड़कियों में Fat Tissue ज्यादा होने से Puberty की शुरुआत जल्दी होने की संभावना काफी ज्यादा मात्रा बढ़ जाती है।

हालांकि, इस पर Researchs का बोलना है कि उन्हें नहीं पता कि मोटापा ही Puberty शुरू होने का मुख्य कारण हुआ है या इसके पीछे और कोई कारण भी बताये गए है।

इसे लेकर अनेको Research की गई हैं जिसमें Stress (तनाव) और Puberty जल्दी शुरू होने के बीच में एक Link पाया गया है। Researchs का यह मानना है कि जो लड़कियां घरेलू हिंसा और घर में बिना Biological पिता के बड़ी होती हैं,

उनके Periods अन्य लड़कियों की तुलना में पहले होने की संभावना अधिक होती है। इसके पीछे की Theory बता दे तो जब आप एक लंबा वक्त Stress में गुजारते हैं तो इससे मस्तिष्क जल्द से जल्द Reproduction शुरू कर देता है।

बता दें कि Reproduction के लिए जिम्मेदार hormones का विकास मस्तिष्क में होता है और यही Hormones Early Puberty के लिए जिम्मेदार भी होते हैं।

Research में और भी कई सारे कारणों के बारे में जानने की कोशिश किये जा रहे हैं जिससे यह पता चल सके कि लड़कियों में Purty की शुरुआत आखिर जल्दी क्यों होती है।

साथ ही में Research यह भी पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि बहुत ज्यादा Screen का इस्तेमाल करने और कम नींद लेने से Puberty पर कोई असर पड़ता भी है या नहीं।

प्यूबर्टी की शुरुआत होने पर बेटियों के माता-पिता रखें इन बातों का ख्याल

खुलकर करें बात– अगर आपकी बेटी भी अपनी Puberty Stage में है तो यह बिल्कुल ही जरूरी है कि आप उसे आसान भाषा में उसके शरीर में होने वाले बदलावों के बारे में उन्हें अवश्य ही बताएं।

जरूरी है कि आप उसे यह समझाएं कि इस Stage में हर किसी को इन सभी चीजों का सामना करना पड़ता है लेकिन इससे बिल्कुल भी घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि यह Common है। उसे अपने शरीर में हो रहे बदलावों को लेकर सहज महसूस कराएं।

उम्र के हिसाब से करें बर्ताव- भले ही आपकी बेटी की Puberty की शुरुआत जल्दी हो गई हो लेकिन इस बात का ख्याल रखें कि उसके साथ बड़े लोगों की तरह बिल्कुल भी बर्ताव ना करें।

जरूरी है कि आप अपनी बेटी के साथ उसकी उम्र के हिसाब से ही बर्ताव करें। Puberty की शुरुआत जल्दी होने का मतलब ये बिल्कुल भी नहीं हैं कि बड़ी हो गई है, तो उससे बात करते समय उसकी उम्र के अनुसार ही उससे बात करें।

कई सारे Parents लड़कियों को कपड़ों को लेकर टोकना शुरू कर देते हैं, इससे वे असहज तो होती ही हैं, साथ ही उनका आत्मविश्वास भी कमजोर होने लगता है।

जरूरी यह है कि आप उसे उसकी उम्र के हिसाब से कपड़े पहनाएं ना कि उसके Size के हिसाब से। साथ ही उसे वो चीजें देखने दें जो उसकी उम्र में लड़कियां देखना पसंद करती हैं।

बेटी की Emotional और physical Health पर करें फोकस

Puberty की शुरुआत होने से आपका बच्चा Mature होने लगता है, अब ऐसे में कुछ ऐसी Activities खोजें जो आप दोनों साथ में कर सकें और ज्यादा से ज्यादा Time साथ में spend कर सकें।

जरूरी है कि आप अपनी बेटी को अपने मन की बात कहने का अवसर दें और उसे Comfortable महसूस कराएं।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.