HomeIndiaSahara India Refund: क्या सहारा इंडिया...

Sahara India Refund: क्या सहारा इंडिया में फंसे हैं आपके भी पैसे, मोदी सरकार ने बताया कब वापस मिलेगी रकम

Sahara India Refund Status 2022: अगर आप भी Sahara India में पैसे फंसे होने से परेशान हैं तो आपके लिए एक खुशखबरी है।

दरअसल, सहारा इंडिया के रिफंड को लेकर सरकार एक्शन में आ गई है, सरकार की तरफ से कई बड़ी कार्रवाई भी की गई है. Market Regulator (SEBI) ने सहारा ग्रुप (Sahara Group) की दो कंपनियों,

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

सुब्रत रॉय और तीन अन्य लोगों पर 12 करोड़ रुपये का भारी भरकम जुर्माना भी लगाया है, इससे पहले सरकार की तरफ से जानकारी दी गई है कि सहारा इंडिया के Investors को पैसा कब वापस मिलेगा।

सरकार ने दी जानकरी:

सरकार ने Sahara India के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि अब तक SEBI (Securities and Exchange Board Of India) सहारा के निवेशकों को ब्याज समेत कुल 138.07 करोड़ रुपये ही वापस कर पाया है।

Sahara India Real Esate Corporation ltd (SIRECL) ने 232.85 लाख निवेशकों से 19400.87 करोड़ रुपये और Sahara Housing Investment Coropration Limited ने 75.14 लाख निवेशकों से 6380.50 करोड़ रुपये एकत्रित किए।

इसका मतलब अब भी इन्वेस्टर्स के करोड़ों रुपये फंसे है.

अब तक कितने मिले रिफंड?

सुप्रीम कोर्ट ने 31 अगस्त 2012 को आदेश दिया था, जिसके बाद Sahara India ने निवेशकों से जमा की गई 25,781.37 करोड़ की मूल राशि के बदले 31 दिसंबर, 2021 तक ‘SEBI-Sahara Refund’ खाते में 15,503.69 करोड़ रुपये जमा किए है।

वित्त राज्यमंत्री की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, SEBI को 81.70 करोड़ रुपये की कुल मूल राशि के लिए 53,642 Original Bond Certificate / Pass Book से जुड़े 19,644 आवेदन मिले है।

इनमें से SEBI ने 138.07 करोड़ रुपये की कुल राशि 48,326 Original Bond Certificate / Passbook वाले 17,526 Eligible Bondholders को रिफंड किया है।

निवेशकों को कब मिलेगा उनका पैसा?

सहारा इंडिया के निवेशकों को उनका पैसा कब वापस मिलेगा के सवाल के जवाब में वित्त मंत्रालय ने कहा कि Security and Exchange Board of India,

Sahara India Real Estate Corporation Limited और Sahara Housing Investment Coropration Limited नाम की दो विशेष सहारा कंपनियों से संबंधित आदेश जारी किए है.

इसके अलावा सरकार ने भी कहा कि बाकी आवेदन या तो SIRECL और SHICL की तरफ से दिए गए Documents और Data में उनका रिकॉर्ड ट्रेस नहीं हो पा रहा है,

जिसके बाद SEBI से पूछे गए सवालों का Bond Holders की तरफ से कोई रिप्लाई न आने के चलते बंद कर दिए गए।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.