HomeNewsChanakya Niti: घर में दिख जाएं...

Chanakya Niti: घर में दिख जाएं ये संकेत तो समझ लें जल्द शुरू होने वाला है बुरा समय, न करें नजरअंदाज

Chanakya Niti : जानिए उन संकेतों के बारे में जो घर पर आने वाले आर्थिक संकट की ओर इशारा करते हैं। आचार्य चाणक्य जी ने अपने नीतिशास्त्र में काफी कुछ बताया है।

उनके द्वारा बताई गई हर एक बातें हम सभी के जीवन में लक्ष्य पाने के लिए बेहद प्रेरित करती हैं।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

आज भी जो लोग आचार्य चाणक्य जी की बातें को अवश्य ही अपनाते हैं। अपनी एक नीतिशास्त्र में चाणक्य जी ने यह बताया है कि बुरा समय आने से पहले ही उसका आभास होने लगता है।

यदि हम घर या आसपास घटने वाली कुछ घटनाओं पर अगर ध्यान दें तो हमें बुरा वक्त आने का संकेत मिल जाएगा। आचार्य चाणक्य जी ने अपने नीतिशास्त्र में ऐसे ही संकेत के बारे में वविस्तारपूर्वक बताया हैं।

जो घर पर आने वाले आर्थिक संकट की ओर इशारा करते हैं। आइए जानते हैं उन संकेतों के बारे में जो घर पर आने वाले आर्थिक संकट की ओर इशारा करते हैं।

प्रथम हैं ‘तुलसी के पौधे का सूख जाना, घर में क्लेश होना, शीशे का बार-बार टूटना, पूजा पाठ का अभाव और बड़े बुजुर्गों का तिरस्कार करना’ – आचार्य चाणक्य नीति

तुलसी के पौधे का सूखना

आचार्य चाणक्य के According, यदि आपके आंगन या घर में लगे तुलसी का पौधा सूखने लगे, तो इसका मतलब आप समझे कि आपको पैसों की तंगी का सामना करना पड़ सकता है। साथ ही यह भविष्य में आने वाली परेशानी का भी संकेत हो सकता है।

घर में झगड़े होना

आचार्य चाणक्य के According, अगर आपके घर में आए दिन परिवारवालों के साथ लड़ाई होती रहती हैं तो ऐसे में आपके घर में मां लक्ष्मी का वास बिल्कुल भी नहीं होगा। जिससे आपकी आर्थिक स्थिति पर बुरा असर पड़ सकता है।

शीशे का टूटना

चाणक्य जी बताते हैं कि जिस घर में बार-बार शीशा टूट रहा हो उस घर के व्यक्ति को आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

घर में पूजा-पाठ न होना

चाणक्य जी बोलते हैं कि घर में सुख समृद्धि के लिए नियमित रूप से पूजा-पाठ होना अति आवश्यक है। चाणक्य के According, जिस घर पर मां लक्ष्मी की पूजा की जाती है,

वहां पर उनकी कृपा अवश्य ही बनी रहती है। लेकिन जिस घर में पूजा-पाठ नहीं होता वहां पर मां लक्ष्मी कभी भी नहीं आती हैं।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.