HomeNewsTelecom Update: दूरसंचार विभाग ने Jio,...

Telecom Update: दूरसंचार विभाग ने Jio, Airtel, VI, BSNL सिम यूज करने वाले के लिए जारी किया नया नियम, जाने डिटेल्स

Telecom Update: अगर आप भी Jio, Airtel, VI, BSNL का सिम इस्तेमाल करते हैं तो आपको New SMS Rule के बारे में जानना बहुत ही ज्यादा जरूरी है।

जी हां देशभर में बढ़ रहे SIM Swap Fraud को देखते हुए दूरसंचार विभाग ने नए सिम रूल्स बनाया है।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

इस नियम के अनुसार Jio, Airtel, VI, BSNL ऐसे Telecom Operator या कोई भी ऑपरेटर नया सिम जारी करेगा तो इससे पहले

24 घंटे के लिए SMS की Incoming और Outgoing सेवाएं बंद रहेंगे और माना जा रहा है कि इस फैसले से SIM Swap Fraud को रोका जा सकता है।

सिम स्वैप फ्रॉड होता कैसे है:

सिम स्वैप फ्रॉड के बारे में जान लेते हैं और यह फ्रॉड उन लोगों के साथ किया जाता है, जिनकी Personal Details फ्रॉड करने वालों तक पहुंच जाती है।

यूजर की पर्सनल जानकारी हासिल करने के बाद फ्रॉड करने वाले बदमाश Telecom Operator से कॉन्‍टैक्‍ट कर नया सिम मांगते है और वही सिम जो यूजर इस्‍तेमाल कर रहा है।

जैसे ही नया SIM Card रिलीज होता है, यूजर के फोन में चल रहा सिम बंद हो जाता है और इसके बाद सारी डिटेल नए सिम में आना शुरू हो जाती हैं, जो फ्रॉड करने वाले बदमाशों के पास होता हैं।

आप सोच रहे होंगे कि फ्रॉड करने वालों के पास कस्‍टमर की Personal Details पहुंचती कैसे है तो आपको बता दे की इसके लिए Phishing Link का इस्‍तेमाल किया जाता है।

यह लिंक आपको SMS के रूप में भेजा जा सकता है या फ‍िर E-mail पर भी और फ्रॉड करने वाले जब पुख्‍ता कर लेते हैं कि,

उनके पास किसी शख्‍स की Personal Details आ गई है, तब वह उसके नाम पर चल रहे पुराने सिम की जगह नए सिम की डिमांड करते हैं।

चिंता की बात है कि फ्रॉड करने वालों तक OTP भी पहुंचने लगते हैं और इनका इस्‍तेमाल कर Financial fraud को अंजाम दिया जा सकता है।

क्या है नया रूल:

इस फर्जीवाड़े को रोकने के लिए ही Department of Telecommunications ने नया रूल निकाला है और मिली जानकारी के अनुसार, इसके लिए Telecom Operators को 15 दिन का टाइम मिला है।

कहा गया है कि नया SIM या नंबर अपग्रेड करने की रिक्‍वेस्‍ट मिलने पर टेलिकॉम कंपनियों को यूजर्स को इसकी जानकारी देनी होगी,

फिर फोन करने कन्‍फर्म करना होगा कि यूजर ही नया SIM या नंबर अपग्रेड करना चाहता है।

अगर कस्‍टमर इससे इनकार करता है, तो टेलिकॉम कंपनियों को फौरन प्रोसेस रोकना होगा और इससे धोखाधड़ी करने वालों तक यूजर के नंबर वाला New SIM नहीं पहुंच पाएगा।

________________________
सभी लेटेस्ट Sarkari Naukri अपडेट व अन्य News जानने के लिए इस व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े.

Whatsapp GroupJoin Now

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.