HomeCareerBoard Syllabus: यूपी और सीबीएसई बोर्ड...

Board Syllabus: यूपी और सीबीएसई बोर्ड ने किया बड़ा फैसला, 9वीं से 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स के सिलेबस में 30 फीसदी कटौती रहेगी जारी, जाने डिटेल्स

UP Board Syllabus: यूपी बोर्ड के 10वीं और 12वीं क्लास के Result का ऐलान हो चुका है।

इस साल Board का रिजल्ट काफी बेहतर रहा है, ऐसे में अब अगले Academic Year की तैयारी हो चुकी है।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

नए Academic Year की शुरुआत होने से पहले ही UP Board ने बड़ा फैसला लिया है और यह फैसला बोर्ड के 1 करोड़ से अधिक स्टूडेंट्स को प्रभावित करने वाला है।

दरअसल, UP Board ने लगातार तीसरे साल 9वीं से 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स के लिए UP Board Syllabus में कटौती का फैसला भी बरकरार रखा है और इस साल भी यूपी बोर्ड के स्टूडेंट्स को 70% Syllabus ही पढ़ाया जाएगा।

यूपी बोर्ड की Official Website पर 2022-23 Academic Year के लिए Syllbaus को अपलोड किया गया है।

इसमें सभी Subjects में 30% Syllabus की कटौती बरकरार रखी गई है और एक्सपर्ट्स का कहना है कि पिछले 2 सालों से Corona Virus महामारी की वजह से Regular Basis पर पढ़ाई नहीं हुई है।

इस वजह से स्टूडेंट्स को मानसिक दबाव का सामना करना पड़ता है, यहां गौर करने वाली बात यह है कि Board Exam के बाद 2 माह तक Practical Exam और Evaluation Process चलता रहा, इस वजह से भी स्टूडेंट्स की पढ़ाई काफी प्रभावित हुई।

बोर्ड की तरफ से ये फैसला क्यों लिया गया?

माना जा रहा है कि UP Board की तरफ से ये फैसला इसलिए लिया गया है, ताकि 2 सालों बाद School में लौटने वाले बच्चों को अच्छा माहौल दिया जा सकेगा।

साथ ही स्टूडेंट्स का विकास भी हो पाएगा साथ ही इन बातों को ही ध्यान में रखते हुए 70% Syllabus को मंजूरी दी गई है. वहीं, इस Academic Year एक बड़ा बदलाव भी देखने को मिलेगा।

दरअसल, UP Board इस साल से 9वीं और 12वीं कक्षा के स्टूडेंट्स का एग्जाम New Pattern पर करवाने वाला है और ऐसा पहली बार होगा कि Academic Session में 5 मासिक एग्जाम होंगे. इसमें तीन MCQ और दो एग्जाम Descriptive होंगे।

सीबीएसई ने भी सिलेबस में कटौती का ऐलान किया:

यहां गौर करने वाली बात ये है कि Syllabus में कटौती करने वाला UP Board इकलौता बोर्ड नहीं है।

Central Board Of Secondary Education (CBSE) ने भी सिलेबस में कटौती का अपना फैसला बरकरार रखा है और सीबीएसई बोर्ड ने भी दो सालों की तरह 70% सिलेबस कटौती का फैसला बरकरार रखा है।

भले ही CBSE की तरफ से सिलेबस में कटौती करने का ऐलान कर दिया गया है, लेकिन स्टूडेंट्स और पैरेंट्स के बीच इस बात को लेकर भी चिंता है कि क्या सिलेबस समय पर पूरा हो पाएगा या नहीं।

CBSE Exam फरवरी में करवाए जाने हैं, ऐसे में लगभग 6 माह में Syllabus को पूरा करना है।

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.