HomeAstrologyBrahma Muhurat: ब्रह्म मुहूर्त क्या होता...

Brahma Muhurat: ब्रह्म मुहूर्त क्या होता है ? जानें इसका महत्व और इसमें उठने के फायदे, जाने डिटेल्स

Brahma Muhurt: हिंदू धर्म में ब्रह्म मुहूर्त (Brahma Muhurat) का विशेष महत्व बताया गया है।

धार्मिक शास्त्रों, वेद पुराणों और हमारे ऋषि-मुनियों ने ब्रह्म मुहूर्त में उठना बहुत लाभकारी बताया है।

________________________
बिहार की सभी लेटेस्ट रोजगार समाचार और स्कॉलरशिप से अपडेटेड रहने के लिए इस ग्रुप में अभी जुड़े. (अगर आप टेलिग्राम नहीं चलाते हैं तो फेसबुक को फॉलो करें, ताकि बिहार की कोई नौकरी नोटिफिकेशन न छूटे)

Whatsapp GroupJoin Now
Follow FacebookJoin & Follow
Telegram GroupJoin Now

यदि अगर आप ब्रह्म मुहूर्त में उठते हैं तो आपको सौंदर्य, बल, विद्या, बुद्धि और स्वास्थ्य की प्राप्ति होती हैं।

आपका पूरा दिन ऊर्जा से भरा होता है और आपको हर काम में बहुत सफलता प्राप्त होती है.

मान्यता के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त (Brahma Muhurat) में उठ कर पूजा पाठ करने से हमारी प्रार्थना सीधे भगवान तक पहुंचती है।

क्या होता है ब्रह्म मूहर्त:

ब्रह्म अर्थात परमात्मा और मुहूर्त अर्थात समय, यानी परमात्मा का समय होता है.

यह रात के अंतिम पहर यानी जब रात खत्म होती है और जब सुबह शुरू होती है उस समय को माना जाता है, सुबह 4 से 5:30 के बीच का समय ब्रह्म मुहूर्त कहलाता है।

ब्रह्म मुहूर्त का महत्व:

प्राचीन काल (Ancient Time) में ऋषि-मुनि ध्यान साधना करने के लिए ब्रह्म मुहूर्त को सबसे उचित और उत्तम समय मानते थे।

धार्मिक शास्त्रों के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त में की गई भगवान की पूजा का फल जल्द ही प्राप्त होता है और इस समय सोना वर्जित माना जाता हैं।

मुहूर्त में उठने के फायदे:

-धार्मिक मान्यताओं (Religious Belifs) के अनुसार ब्रह्म मुहूर्त में देवी-देवता और पितृ हमारे घर में आगमन करते है, जिसके कारण हमारे घर में उन्नति होती है

-जब व्यक्ति ब्रह्म मुहूर्त (Brahma Muhurat) में उठता है तो उस समय वातावरण में फैली

सकारात्मक ऊर्जा (Positive Energy) मनुष्य के शरीर में प्रवेश करती है, जिससे व्यक्ति का पूरा दिन बहुत अच्छे से व्यतीत होता है

-ब्रह्म मुहूर्त में किया गया ध्यान आत्म विश्लेषण और ब्रह्म ज्ञान के लिए बेहद ही सर्वोत्तम माना गया है

-ब्रह्म मुहूर्त में उठने से शारीरिक शक्ति (Physical Strength) बढ़ती है साथ ही सहनशीलता में भी वृद्धि होती है

________________________
सभी लेटेस्ट Sarkari Naukri अपडेट व अन्य News जानने के लिए इस व्हाट्सएप ग्रुप में जुड़े.

Whatsapp GroupJoin Now

Related Article

Most Popular

Sarkari Naukri

Astrology

Sarkari Yojana

Life Style

error: Copyright © 2022 All Rights Reserved.